सामने आये नए लक्षण : अगर आप के पैरों में भी बन रहे हैं ऐसे निशान तो हो सकता है कोरोना

कोरोना वायरस पर दुनिया भर में कई सारी रिसर्च टीम काम कर रहीं हैं। कुछ कैविड 19 वैक्सीन के बनाने में व्यस्त हैं, जबकि अन्य इस वायरस के कारण मानव शरीर में दिखाई देने वाले लक्षणों का अध्ययन कर रहे हैं।

तेज़ या लगातार बुखार, सूखी खांसी या अत्यधिक ठंड कोरोना वायरस के संक्रमण के सामान्य लक्षण थे। अब, हालांकि, इन संक्रमणों के लक्षणों में कुछ अन्य चीजें भी जोड़ी जा रही हैं। स्पेन में डॉक्टरों का मानना ​​है कि आपके पैरों पर विशेष धब्बे का बनना कोरोना वायरस के संक्रमण का लक्षण हो सकता है।

Read: IAS इंटरव्यू में पूछा गया “क्या भारत एक नाखुश देश है?” जानिए उम्मीदवार ने क्या जवाब दिया

पैरों पर बैंगनी घाव

हाल ही में, स्पेन के डॉक्टरों ने चेतावनी दी है कि कोरोना वायरस का असर आपके पैरों में भी दिखाई देता है। यह वायरस कुछ रोगियों की त्वचा पर घावों का कारण बनता है। स्पैनिश त्वचा विशेषज्ञ के अनुसार, कोविड 19 रोगियों के पैरों पर बैंगनी घाव देखे जा सकते हैं। ये घाव आमतौर पर केवल छोटे बच्चों और किशोर लड़कियों में होते हैं। डॉक्टरों का कहना है कि ये घाव चिकनपॉक्स के निशान की तरह दिखते हैं। आपको इस तरह के घाव या निशान सिर्फ पैर की उंगलियों के आसपास दिखाई देंगे।

डॉक्टरों ने चेतावनी दी है कि जो व्यक्ति अपने पैरों में इस तरह के निशान देखता है, उसे तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इन पैरों में घावों की संख्या किसी मरीज में कम और किसी में ज्यादा होती है।

सूंघने की शक्ति

कुछ दिनों पहले, ब्रिटेन और अमेरिका ने कोरोना वायरस के लक्षणों के बारे में एक अनूठा दावा किया। उन्होंने कहा कि यहां तक ​​कि अगर किसी व्यक्ति की सूंघने की शक्ति अचानक से चली जाती हैं , तो यह कोरोनोवायरस का लक्षण हो सकता है।

फिलहाल यह वायरस नया हैं और इनके बारे में अभी बहुत कुछ सीखना बाकी है। इसीलिए दुनिया के सभी डॉक्टर इस वायरस पर लगातार शोध कर रहे हैं।

विशेषज्ञों के अनुसार, कोरोना वायरस आम फ्लू से तीन गुना तेजी से फैलता है। इस वायरस से सबसे ज्यादा खतरा बुजुर्गों, रक्तचाप और शुगर के मरीजों को है। इसके अलावा, कम प्रतिरक्षा वाले लोगों के लिए कोरोना घातक साबित हो सकता है। वर्तमान में इस वायरस के लिए कोई विशिष्ट उपचार उपलब्ध नहीं है, इसलिए आपको इससे बचने के लिए घर पर रहना चाहिए।

भारत में अब तक कोरोना के 13,000 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। इस वायरस से भारत में अब तक 437 लोगों की मौत हो चुकी है। इसी को देखते हुए पीएम मोदी ने भी 3 मई तक प्रतिबंध अवधि बढ़ा दी है। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगे तो इसे दूसरों के साथ शेयर करना न भूलें।

 

इस आर्टिकल के संबंध में आपके विचारों का हमें इंतजार रहेगा| आप पोस्ट पर अपने विचार कमैंट सेक्शन में शेयर कर सकते हैं|

Learn English While Playing

You’ll Also Like

займ онлайн на карту без отказа


Posted

in

by

Tags:

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *