इस राज्य ने शराब की होम डेलेवरी की सुविधा उपलब्ध करवाई

मौजूदा कोरोनवायरस के कारण, उससे संक्रमित होने से बचाव के लिए सरकर ने पुरे भारत को लॉकडाउन का पालन करने का आदेश दिया है । लॉकडाउन को दो बार बढ़ाया गया और तीसरी बार यह 3 मई 2020 से शुरू हुआ।

तीसरी बार शुरू होने के समय , सरकर ने कुछ छूट भी दिए जिसमें से एक यह है की शराब की दुकानों खोल दी जाएगी । बहुत भीड़ होने के कारण दिल्ली में कई दुकानों को कुछ घंटो में ही बंद करना पड़ा । पहले सरकर ने नियम बनाया था की कोई भी व्यक्ति दो बोतल से अधिक शराब नही ख़रीद सकता पर लोगों की संख्या को देखते हुए अब एक व्यक्ति छह बोतल ख़रीद सकता है ।

छत्तीसगढ़ सरकर ने शराब की होम डेलिवेरी करने का भी निर्णय लिया किंतु यह सिर्फ़ बड़े राज्यों की ग्रीन ज़ोन वाले जगह पर लागु किया जाएगा । होम डेलिवेरी से शराब के दुकानो के बाहर भीड़ नही होगी जिससे सोशियल डिसटनसिंग का पालन होगा । लोगों को अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और घर का पता भेजना होगा । जब उनका ऑडर दर्ज किया जाएगा तो उनके पास एक ओ.टी.पी जाएगा ।

धरमलाल कौशिक, विपक्षी पार्टी के लीडर  ने कहा की “यह महात्मा गांधी का जन्म शताब्दी वर्ष है सरकार चाहे तो इस अवसर का लाभ उठा कर शराबबंदी का सकती है। इसका कार्यानवयन का इससे बेहतर अवसर नही होगा।”

दरअसल चुनाव के समय कोंग्रेस ने शराबबंदी की घोषणा ख़ूब ज़ोर शोर से की थी । पर सत्ता मिलने के बाद ये ठंडे पड़ गए और अब राज्य में कुछ 600 से ज़्यादा शराब की दुकाने है जो राज्य सरकार के संचालन में ही आता है ।

दिल्ली ,मुम्बई ,कोलकाता जैसे बड़े राज्यों में भी शराब की दुकानो के बाहर हज़ारों लोगो की भीड़ पाई गई । दिल्ली के सरकार ने शराब पर 70 प्रतिशत तक दाम बढ़ाया । यह बढ़ाव कोरोना डोनेशन होगा । नैनीताल में मौसम बिगडने पर भी लोग छाता ले कर खड़े है ।

यदि समय रहते इस भीड़ को रोका नही गया तो संक्रमित लोगों की संख्या को क़ाबू में करना मुश्किल हो जाएगा । संख्या बढ़ कर पचास हज़ार के क़रीब पहुँच गई है । सबसे निवेदन है की वे घर पे रहे और सुरक्षित रहे । займ на карту онлайн


Posted

in

by

Tags:

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *